Home » ‘50% कमीशन वाली है मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार’, आरोप लगाकर बुरे फंसे प्रियंका गांधी और कमलनाथ, केस दर्ज

‘50% कमीशन वाली है मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार’, आरोप लगाकर बुरे फंसे प्रियंका गांधी और कमलनाथ, केस दर्ज

Spread the love

‘50% कमीशन वाली है मध्य प्रदेश सरकार’, इस टिप्पणी को करने के बाद कांग्रेस नेता परेशानी में पड़ गये हैं. जी हां..जो जानकारी सामने आ रही है उसके अनुसार, मध्य प्रदेश सरकार पर भ्रष्टाचार के आरोप वाले कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के सोशल मीडिया पोस्ट को लेकर इंदौर में प्रियंका गांधी, कमलनाथ और अरुण यादव सरीखे वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं के ट्विटर अकाउंट के ‘‘हैंडलर’’ (खाता चलाने वाला व्यक्ति) के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई. बीती रात इस संबंध में जानकारी सामने आयी. पुलिस ने आधिकारिक विज्ञप्ति में इस बात कर जिक्र नजर आ रहा है. इस मामले में बीजेपी द्वारा ग्वालियर में भी प्राथमिकी दर्ज कराई गई है. आपको बता दें कि इससे पहले दिन में बीजेपी नेताओं ने प्रियंका गांधी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की चेतावनी दी थी.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने शुक्रवार को ट्विटर पर दावा किया कि मध्य प्रदेश के ठेकेदारों के एक संघ ने हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश को पत्र लिखकर शिकायत की है कि उन्हें 50 प्रतिशत कमीशन देने के बाद ही भुगतान मिलता है. उन्होंने आरोप लगाया था कि कर्नाटक की भ्रष्ट बीजेपी सरकार 40 प्रतिशत कमीशन वसूलती थी. मध्य प्रदेश में बीजेपी सरकार भ्रष्टाचार के अपने ही रिकॉर्ड को तोड़कर आगे निकल गई है. कर्नाटक की जनता ने 40 प्रतिशत कमीशन वाली सरकार को सत्ता से बाहर कर दिया अब मध्य प्रदेश की जनता 50 प्रतिशत कमीशन वाली सरकार को सत्ता से हटाएगी.

शनिवार को इंदौर के पुलिस आयुक्त के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर जारी विज्ञप्ति में बताया गया कि बीजेपी के विधि प्रकोष्ठ की स्थानीय इकाई के संयोजक नीमेष पाठक ने शिकायत की है कि ज्ञानेंद्र अवस्थी नाम के व्यक्ति ने सोशल मीडिया पर कथित रूप से फर्जी पत्र वायरल किया है, जिसमें ठेकेदारों से 50 प्रतिशत कमीशन मांगे जाने की बात लिखी नजर आ रही है. विज्ञप्ति में कहा गया कि इस शिकायत पर शहर के संयोगितागंज पुलिस थाने में अवस्थी के साथ ही प्रियंका गांधी, कमलनाथ और अरुण यादव के ट्विटर अकाउंट के ‘‘हैंडलर’’ के खिलाफ मामला दर्ज करके जांच की जा रही है.

छिंदवाड़ा पहुंचे धीरेंद्र शास्त्री, कमलनाथ ने किया यूं स्वागत, हिंदू वोट को साधने की कांग्रेस कर रही है तैयारी

See also  PAN Aadhaar Link:क्या आपने अपने आधार कार्ड को पैन के साथ लिंक किया है? अगर नहीं, तो अभी करें, अन्यथा आपको हजार रुपये का जुर्माना भुगतना पड़ सकता है।

भ्रामक सोशल मीडिया पोस्ट साझा कर प्रदेश सरकार की छवि खराब की

इससे पहले, अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त रामसनेही मिश्रा ने दावा किया कि संयोगितागंज पुलिस थाने में ज्ञानेंद्र अवस्थी और अन्य के साथ ही संबंधित ट्विटर हैंडल पर दर्ज नाम के आधार पर प्रियंका गांधी, कमलनाथ और अरुण यादव के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है. उन्होंने बताया कि यह प्राथमिकी भारतीय दंड विधान की धारा 420 (धोखाधड़ी) और धारा 469 (ख्याति को नुकसान पहुंचाने के इरादे से जालसाजी) के तहत दर्ज की गई है. पाठक का आरोप है कि कांग्रेस नेताओं ने प्रदेश की बीजेपी सरकार पर भ्रष्टाचार में शामिल होने के झूठे आरोप वाले भ्रामक सोशल मीडिया पोस्ट साझा कर प्रदेश सरकार और उनकी पार्टी की छवि खराब की.

किन धाराओं में प्राथमिकी दर्ज की गई

अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त ने बताया कि पुलिस संबंधित ट्विटर हैंडल की प्रामाणिकता की जांच कर रही है. वहीं, पुलिस अधीक्षक (एसपी) राजेश सिंह चंदेल ने कहा कि विवादास्पद सोशल मीडिया पोस्ट संबंध में ग्वालियर में एक मामला दर्ज किया गया है. उन्होंने बताया कि बीजेपी की जिला कार्यसमिति के सदस्य पंकज पालीवाल की शिकायत पर ग्वालियर पुलिस की अपराध शाखा ने सत्तारूढ़ दल पर भ्रष्टाचार में लिप्त होने का आरोप लगाने वाले पत्र के संबंध में ज्ञानेंद्र अवस्थी और अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया है. उन्होंने कहा कि भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 420 (धोखाधड़ी) और 469 (प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचाने के उद्देश्य से जालसाजी) के तहत अवस्थी और अन्य लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है.

MP: शिवराज सिंह चौहान पर कमलनाथ का हमला, कहा- कई वर्षों के कर्मों को धोने में लगे हैं सीएम

प्राथमिकी के अनुसार, शिकायतकर्ता ने कहा कि वायरल पत्र में अवस्थी और उनके संगठन लघु एवं मध्यम श्रेणी संविदाकार संघ का नाम बताया गया है, जिसका कार्यालय (पत्र के अनुसार) ग्वालियर के वसंत विहार इलाके में है. शिकायतकर्ता ने कहा कि खोजबीन करने पर उस मोहल्ले में ऐसा कोई व्यक्ति या संस्था नहीं मिली, इसलिए पत्र जाली है. प्रियंका के आरोप को झूठा बताते हुए मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कांग्रेस नेता से आरोप का समर्थन करने वाले सबूत मांगे और चेतावनी दी कि राज्य सरकार और बीजेपी के सामने कानूनी कार्रवाई के विकल्प खुले हैं.

See also  School Holidays in January 2023:जनवरी में इतने दिन बंद रहेंगे स्कूल, जानें यहाँ।

सोशल मीडिया पर ‘‘झूठ’’ फैला रहा है विपक्ष: शिवराज सिंह चौहान

वहीं, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि विपक्षी दल सोशल मीडिया पर ‘‘झूठ’’ फैला रहा है. जबकि, मध्य प्रदेश कांग्रेस प्रमुख कमलनाथ ने दावा किया कि भ्रष्टाचार के हजारों मामले हैं. बीजेपी की प्रदेश इकाई के प्रमुख वी.डी. शर्मा ने आरोप लगाने के लिए सोशल मीडिया पोस्ट में एक फर्जी पत्र का हवाला देने का आरोप लगाते हुए कांग्रेस नेता के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की चेतावनी दी. हालांकि, कांग्रेस की प्रदेश इकाई ने कहा कि वह साबित करेगी कि भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार भ्रष्ट है और उसने सत्तारूढ़ दल पर ‘‘राजनीतिक आतंक’’ पैदा करने का भी आरोप लगाया.

मध्य प्रदेश में सत्ता विरोधी लहर को दलित समीकरण से साधेगी बीजेपी ? बुंदेलखंड के वोट बैंक पर डालें एक नजर

प्रियंका गांधी के आरोप का जवाब देते हुए नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस बिना किसी मुद्दे के ‘‘घृणित मानसिकता के साथ’’ राजनीति कर रही है. मंत्री ने दावा किया, प्रदेश कांग्रेस के नेताओं ने पहले राहुल गांधी से झूठ बुलवाया और अब प्रियंका गांधी से झूठा पोस्ट करवाया. प्रियंका जी, अपने पोस्ट में लगाए गए आरोपों का सबूत दें, अन्यथा हमारे पास (कानूनी) कार्रवाई के लिए सभी विकल्प खुले हैं.’’ उन्होंने कहा कि प्रियंका गांधी को हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश को पत्र लिखने वाले उस व्यक्ति या ठेकेदार का नाम बताना चाहिए जिसका जिक्र उन्होंने अपने सोशल मीडिया पोस्ट में किया है.

यह एक साजिश है : बीजेपी

मीडिया से बात करते हुए बीजेपी नेता शर्मा ने कांग्रेस पर ‘‘सत्ता की भूखी होने और झूठ बोलकर सत्ता में आने’’ के लिए बेताब होने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा, यह एक साजिश है और बीजेपी इस पोस्ट को लेकर साइबर अपराध के तहत कार्रवाई करेगी…उन्हें बताना होगा कि उन्हें यह पत्र कहां से मिला. आपने (प्रियंका गांधी) एक फर्जी पत्र के आधार पर ना केवल मध्य प्रदेश, बल्कि देश को गुमराह किया है.’’ बीजेपी नेता ने कहा कि कांग्रेस के नेतृत्व को इस पर जवाब देना होगा, बीजेपी इस संबंध में कानूनी कार्रवाई करेगी. प्रदेश कांग्रेस के मीडिया विभाग के अध्यक्ष के.के. मिश्रा ने कहा कि उनकी पार्टी यह साबित कर देगी कि भाजपा सरकार भ्रष्ट है. उन्होंने कहा, भाजपा को वास्तविकता स्वीकार करनी चाहिए, लेकिन सत्तारूढ़ दल ‘राजनीतिक आतंक’ पैदा कर रहा है…यह असंवैधानिक तरीके अपना रहा है. हम साबित कर देंगे कि सरकार भ्रष्ट है.’’

See also  Jawan Box Office Collection Day 1: पठान-गदर 2 के ओपनिंग डे रिकॉर्ड को तोड़ देगी जवान, पहले दिन करेगी इतनी कमाई

कांग्रेस पर सोशल मीडिया पर झूठ फैलाने का आरोप

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस पर सोशल मीडिया पर झूठ फैलाने का आरोप लगाया. शनिवार को सोशल मीडिया के माध्यम से पत्र मिलने के बाद, चौहान ने कहा कि उन्होंने खुफिया विभाग को ग्वालियर के उस व्यक्ति और संगठन, लघु एवं मध्यम श्रेणी संविदाकार संघ का पता लगाने के लिए कहा, जिसने उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश को पत्र लिखा था. चौहान ने पत्र को फर्जी बताते हुए कहा कि कांग्रेस नेताओं द्वारा सोशल मीडिया पर पोस्ट किए गए इस पत्र में जिस व्यक्ति और संगठन का जिक्र किया गया है उसका कोई अस्तित्व नहीं है, यह सोशल मीडिया के जरिए लोगों को गुमराह करने की कांग्रेस की रणनीति है.

भ्रष्टाचार के हजारों मामले : कमलनाथ

मध्य प्रदेश कांग्रेस प्रमुख कमलनाथ ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि भ्रष्टाचार के हजारों मामले हैं. वे कितने मामले दायर करेंगे? जब भ्रष्टाचार के मामले उजागर हो रहे हैं तो उनके (भाजपा) पास कोई विकल्प नहीं बचता. इस बीच, प्रदेश भाजपा मीडिया प्रकोष्ठ के प्रभारी आशीष अग्रवाल ने कहा कि भाजपा नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल पुलिस अपराध शाखा कार्यालय पहुंचा और प्रियंका गांधी सहित कांग्रेस नेताओं के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की मांग की, जिन्होंने सत्तारूढ़ पार्टी की छवि खराब करने के लिए सोशल मीडिया पर फर्जी पत्र साझा किया. मध्य प्रदेश में इस साल नवंबर में विधानसभा चुनाव प्रस्तावित हैं.

भाषा इनपुट के साथ

Leave a Reply

Serbian Dancing Lady: Who Is Serbian Dancing Lady ?Viral Skincare By Sanjana Sanghi For Radiant Skin Hina Khan: Try These Sassy Indo-Western Blouse Designs Inspired By Hina Khan! Shehnaaz Gill: The Best Eid Earrings Are From Shehnaaz Gill. Nora Fatehi: Dietary Guidelines From Nora Fatehi For A Toned Figure
%d bloggers like this: